Shohar ko Razi Karne ki Dua | शोहर को राज़ी करने की दुआ

अस्सलामु अलैकुम्, उम्मीद है के आप सभी खैरो आफियत से होंगे। आज हम आप को Shohar ko Razi Karne ki Dua बताने वाले हैं उम्मीद है आप इस पोस्ट को पढ़ कर दूसरों तक भी पहुॅचायेंगे।


Shohar ko Razi Karne ki Dua | शोहर को राज़ी करने की दुआ

Shohar ko Razi Karne ki Dua

वा मिनन्नासी मन्यत्ता खिजू मिन दोव निल्लाहि अन्दन्युहिब्बो नहूम कहुब्बिल्लाह वलजीना आमनू अशद्दु हुब्बनलिल्लाह वलव यरल्लाजिना ज़लामू इज यरवना अल’अजाबा अनलक़ुव्वता लिल्लाहि जमी’अन वा अनअल्लाह शदिदुल ‘अजाब

Wa minannaasi manyatta khiju min doov nillahi andaadanyuhibboo nahum kahubbillah walljeena aamanoo ashaddu hubbanlillah walaw yrallajina zalamoo ij yaravna al’ajaaba analquwwata lillahi jamee’an wa anAllaha shadidul ‘ajaab


तर्जुमा:

और (इस के बावजूद) लोगों में कुछ वह भी हैं जो अल्लाह के इलावा दूसरों को उस की खुदाई में इस तरह शरीक क़रार देते हैं कि उन से ऐसी मोहब्बत रखते हैं जैसे अल्लाह की मोहब्बत (रखनी चाहीए) । और जो लोग ईमान लाचुके हैं वह अल्लाह ही से सब से ज़्यादा मोहब्बत रखते हैं। और काश कि ये ज़ालिम जब (दुनिया में) कोई तकलीफ़ देखते हैं उसी वक़्त ये समझ लिया करें कि तमाम-तर ताक़त अल्लाह ही को हासिल है. और ये कि अल्लाह का अज़ाब (आख़िरत में) इस वक़्त बड़ा सख़्त होगा ( १६५)

फ़ज़ीलत: जिस का शौहर नाराज़ हो इस आयत को शीरीनी पर पढ़ कर खिलाए इंशा अल्लाह ताला महेरबान हो जाएगा। मगर वाज़िह रहे कि नाजायज़ महल में हरगिज़ उस का असर न होगा।

हवाला: अल बक़रा १६५


Read More: Namaz e Janaza ki Dua | नमाज़े जनाज़ा की दुआ | Easy Way

Leave a Comment